दिल को छु लेने वाली हिंदी शायरी Latest 2017

0
हिंदी शायरी दिल को छु लेने वाली  2 lines shayari कुछ रोमांटिक शायरी  कुछ प्यार भरी शायरी कुछ नाराज़ होने वाली शायरी, ऐसी शायरी जिन्हें Whatsapp और 2 line shayari facebook, Message, Sms के लिए हिंदी में शायरी दोस्त रिश्तेदार अपने प्यार Gf, Bf  के लिए
दिल को छु लेने वाली हिंदी शायरी Latest 2017  

दिल को छु लेने वाली हिंदी शायरी 
Latest 2017 , हिंदी शायरी दिल को छु लेने वाली  2 lines shayari कुछ रोमांटिक शायरी  कुछ प्यार भरी शायरी कुछ नाराज़ होने वाली शायरी, ऐसी शायरी जिन्हें Whatsapp और 2 line shayari facebook, Message, Sms के लिए हिंदी में शायरी दोस्त रिश्तेदार अपने प्यार Gf, Bf  के लिए  

*मोहब्बत छोड़ के हर एक जुर्म कर लेना......*
*वरना तुम भी मुसाफिर बन जाओगे तनहा रातों के.......

ना किस्सों से
ना किश्तों में
ज़िन्दगी बनती है
कुछ रिश्तों से

एक तवायफ ने आत्मकथा लिखने की क्या सोची!!
शहर के सारे शरीफ खुदकुशी पर उतर आये

सारे मशरूफ हैं यहाँ दूसरों की कहानियाँ जानने में !
इतनी शिद्दत से खुद को जान लेते तो खुदा हो जाते !!

बदल जाओ वक़्त के साथ या फिर वक़्त बदलना सीखो,
मजबूरियो को मत कोसो हर हाल में चलना सीखो !!

कभी राज़ी तो कभी मुझसे ख़फ़ा लगती है..
ज़िन्दगी तू ही बता तू मेरी क्या लगती है...

बड़े अजीब से हो गए रिश्ते आजकल..
सब फुरसत में हैं पर वक़्त किसी के पास नही.

दुआओं की सख्त जरूरत आन पड़ी है ...
कोई हँसने की अब दुआ दे दो मुझको ...!!

"नुमाइश करने से मोहब्बत बढ़ नहीं जाती,
मोहब्बत वो भी करते है,,जो इज़हार तक नहीं करते...! _

किसी रिश्ते का अंत तब होता है .....
जब एक का हद से ज्यादा प्यार और परवाह दूसरे को बोझ लगने लगता है...!!!!


*खुश रहना हो... तो... अपनी फितरत में...., एक बात शुमार कर लो..
*ना मिले कोई अपने जैसा...., तो खुद से प्यार कर लो..!!*

"फैसला" जो भी हो मंजूर होना चाहिए...
"जंग" हो या "इश्क" भरपूर होना चाहिए ...

कोई और तरीक़ा बताओ जीने का यारों,
साँसे ले लेकर थक गया हूं अब...!

ज़रूरी नहीं इश्क में,बांहो के सहारे ही मिले ...
किसी को जी भर के महसूस करना भी मोहब्बत है.

ज़रा सा बात करने का तरीका सिख लो तुम भी...
ईधर तुम लब हिलाते हो उधर दिल टूट जाते है...

मोहब्बत सब्र के अलावा कुछ नही...!!
मैने हर इश्क़ को इंतज़ार करते देखा है...!

कितना मुश्किल है ना तेरे मेरे इश्क़ की कहानी लिखना
जैसे पानी से पानी पर पानी को पानी लिखना

कभी कभी लिखी हुई बातों को हर कोई नहीं समझ सकता क्योंकि,
उसमें "एहसास" लिखा होता है,और लोग सिर्फ "अल्फाज" पढ लेते है...!

#तलाश 🕺है इक ऐसे #शक्स 👸 की , जो #आँखो 👀 मे उस #वक्त #दर्द 😨 #देख 👀ले,😍😍
जब #दुनियाँ 🌍 हमसे कहती है, #क्या यार तुम #हमेशा #हँसते ही रहते हो

कोई ने आकर बोला मूजे की तेरी महोबत कया हैं.....,
मेने हंसकर कहा उसे...
मंदिर में जाके पूछ खुदा से मेरी ईबादत कया हैं.........!

कोई ने आकर बोला मूजे की तेरी महोबत कया हैं.....,
मेने हंसकर कहा उसे...
मंदिर में जाके पूछ खुदा से मेरी ईबादत कया हैं.........!


आज मौसम कितना खुश गंवार हो गया,
खत्म सभी का इंतज़ार हो गया,
बारिश की बूंदे गिरी कुछ इस तरह से,
लगा जैसे आसमान को ज़मीन से प्यार हो गया| —


कुछ ऐसी मोहहब्बत उसके दिल में भर दे ऐ खुदा ,
के वो जिसे भी चाहे वो मैं बन जाऊ..

जब वो नींद के नशे में धीरे धीरे फोन पर बात करती है ना...
उससे खूबसूरत आवाज़ उसकी आज तक नहीं सुनी मैंने।।

गुज़र गया दिन अपनी तमाम रौनके लेकर,
ज़िन्दगी ने वफ़ा कि तो कल फिर सिलसिले होंगे..!!


कुछ लोगों की मोहब्बत भी सरकारी होती हैं,
ना तो फ़ाइल आगे बड़ती हैं, ना ही मामला बंद होता हैं.

सब लाेग राह गुजर नही हाेते.,
👥साथ चलने वाले हमसफर नही हाेते,
👉कितना दर्द हाेता है उन लाेगाे के दिलाे में,
पूछाे उन लाेगाे से जिनके अपने भी अपने नही हाेते...

बना के #ताजमहल एक दौलतमन्द आशिक ने, गरीबो की
#मोहब्बत का तमाशा बना दिया ..

चलकर देखा है अक्सर, मैंने अपनी चाल से तेज,
पर वक्त, और तकदीर से आगे, कभी निकल न सके..


कभी कभी यूँ भी हम अपने मन को बहलाते है,
जिन बातों को ख़ुद ना समझे हम औरों को समझाते है...


 *मोहब्बत के पटवारी को जानते हो साहिब..*
*मुझे मेरा महबूब अपने नाम करवाना है!!!


काश…!! एक खवाहिश पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आ कर गले लगा ले मेरी इजाजत के बगैर..


ऐ दिल तू उसका इन्तजार न कर,
जो याद न करे उससे प्यार न कर,
कुछ तो बात है उसमें तभी गुरूर करती
है,
चाँद पाने के लिए दिल बेकरार न कर।


इंसान तब समझदार नही होता
जब वो बडी बडी बाते करने लगे...
_
_
_
इंसान तब समझदार होता है
जब वो छोटी छोटी बाते समझने लगे...!


"बहुत शौक था मुझे सबको जोड के रखने का,
होश तब आया जब खुद के वजूद के टुकडे हो गये....


दिल से दूर जिन्हें हम कर ना सके,
पास भी उन्हें हम कभी पा ना सके,
मिटा दिया प्यार जिसने हमारे दिल से,
हम उनका नाम लिख कर भी मिटा ना सके..


ज़रूरी नहीं इश्क में,बांहो के सहारे ही मिले ...
किसी को जी भर के महसूस करना भी मोहब्बत है.


कह दो कोई उन्हें कि अपना सारा वक्त दे दें मुझे,
जी नहीं भरता मेरा अब जरा-जरा सी मुलाकातों से...


जब उसकी बात आपसे कम होने लगे तो समझ लेना उसकी बात किसी और से ज्यादा होने लगी है।



ये जो ईंटे देख रहे हो न, आज इनका कोई मज़हब नहीं है,
पर कल जब मंदिरों में लगेंगी तो हिन्दू हो जाएंगी,
और मस्जिदों में लगेंगी तो मुसलमान..

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता,
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’,
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता..!!

लोग कहते है प्यार करने वाले दूर रहकर भी एक साथ रहते है,
पर उनका क्या जो एक दुसरे के सामने होकर भी एक नहीं हो पाते !!

जिसके लिए लिखता हूँ आज कल..,
.
.
वो कहती हैं अच्छा लिखते हो उनको सुनाऊँगी..,


सब के दिलों का एहसास अलग होता है,
इस दुनिया में सब का व्यवहार अलग होता है,
आँखें तो सब की एक जैसी ही होती है,
पर सब का देखने का अंदाज़ अलग होता है..!!

किसी की यादों में यूँ मायूस नहीं होते,
जिंदगी में इस कदर निराश नहीं होते,
कभी तो मिलेगी खुशियों के बहार,
इस तरह नाउम्मीद से मजबूर नहीं होते

जख्म जब मेरे सीने से बहार आयेंगे,
आंसू भी मोती बनकर बिखर जायेंगे,
ये न पूछों कि किसने कितना दर्द दिया है,
वर्ना कई अपनो के चेहरे उतर जायेंगे..!!


दिदार की तलब हो तो नजरें जमाए रखना ग़ालिब....,
क्युकि नकाब हो या नसीब हो सरकता जरूर हैं...........,


नज़र से मिली नज़र मुस्करा कर चले गये,
चन्द लम्हों में ही दिल लुटा कर चले गये,
दिल तड़पता रह गया उनके दीदार के लिए,
वो नकाब में चेहरा छुपा कर चले गये।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !