Dil Ko Chu Lene Bali Dosti Friendship Shayari

1
Dil Ko Chu Lene Bali Dosti Friendship Shayari.Apne Best Friends Ke Liye Shayari, Bestfriend Ladke  Or Ladki Ke Loye Shayri Hindi Or English Me. हिंदी शायरी दोस्त के लिए  अपने प्यारे दोस्त के लिए शायरी. Dosi Friendship Ke Liye Dil Ko Chu Lene Bali Shayari.
Dil Ko Chu Lene Bali Dosti Friendship Shayari

Dil Ko Chu Lene Bali Dosti Friendship Shayari.Apne Best Friends Ke Liye Shayari, Bestfriend Ladke  Or Ladki Ke Loye Shayri Hindi Or English Me. हिंदी शायरी दोस्त के लिए  अपने प्यारे दोस्त के लिए शायरी. Dosi Friendship Ke Liye Dil Ko Chu Lene Bali Shayari.

दोस्ती शायरी, Dil Ki Baat Chhupana
दिल की बात छुपाना आता नही,
किसी का दिल दुखाना आता नही,
आप सोचते है हम भूल गए आपको,
पर कुछ अच्छे दोस्तो को भूलना हमको आता नही
Dil Ki Baat Chhupana Aata Nahi,
Kisi Ka Dil Dukhana Aata Nahi,
Aap Sochte He Hum Bhul Gaye Aapko,
Par Kuchh Achhe Dosto Ko Bhulana Humko Aata Nahi.

दोस्ती शायरी, Tujhe Dekhe Bina Teri Tasvir
तुझे देखे बिना तेरी तस्वीर बना सकता हूँ,
तुझसे मिले बिना तेरा हाल बता सकता हूँ,
है मेरी दोस्ती में इतना दम,
तेरी आँख का आँसू आपनी आँख से गिरा सकता हूँ।
Tujhe Dekhe Bina Teri Tasvir Bana Sakta Hoon,
Tujhse Mile Bina Tera Haal Bata Sakta Hoon,
Hai Meri Dosti Mein Itna Dum,
Apni Aankh Ka Aansoo Teri Aankh Se Gira Sakta Hoon.

दोस्ती शायरी, Wada Na Karo Agar Tum
वादा ना करो अगर तुम निभा ना सको,
चाहो न उसको जिसे तुम पा ना सको,
दोस्त तो दुनिया में बहुत होते है,
पर एक खास रखो जिसके बिना मुस्कुरा ना सको।
Wada Na Karo Agar Tum Nibha Na Sako,
Chaho Na Usko Jise Tum Pa Na Sako,
Dost To Duniya Me Bahot Hote Hai,
Par Ek Khas Rakho Jiske Bina Tum Muskura Na Sako.

दोस्ती शायरी, Chahat Wo Nahi Jo Jaan
चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.
Chahat Wo Nahi Jo Jaan Deti Hai,
Chahat Wo Nahi Jo Muskaan Deti Hai,
Ae Dost Chahat To Wo Hai,
Jo Pani Mein Gira Aansoo Pehchan Leti Hein

दोस्ती शायरी, Gulaab Khilte Rahe Zindgi
गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में,
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में.
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको,
देता हे ये दिल दुआ बारबार आपको.
Gulaab Khilte Rahe Zindgi Ki Raah Mein,
Hassi Chamakti Rahe Aapki Nigaah Mein,
Khushi Ki Lahar Mile Har Kadam Par Aapko,
Deta Hai Ye Dil Dua Baar-Baar Aapko.

दोस्ती शायरी,  दोस्त को दोस्त का इशारा
दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे|

दोस्ती शायरी, वो पूछते हैं इतने गम
वो पूछते हैं इतने गम में भी खुश कैसे हो
मैने कहा, प्यार साथ दे न दे, यार साथ हैं!

दोस्ती शायरी, कौन कहाँ होगा...
बरसों बाद न जाने क्या समां होगा,
हमसब दोस्तों में न जानें कौन कहाँ होगा,
अगर मिलना हुआ तो मिलेंगें ख्वाबों में,
जैसे सूखे हुये गुलाब मिलते हैं किताबों में।

दोस्ती शायरी, वो पुराने दोस्त...

शायद फिर हमें वो तकदीर मिल जाये,
जीवन के वो हसीं पल फिर मिल जाये,
चल फिर से बैठें क्लास की लास्ट बैंच पे,
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ

दोस्ती शायरी, कुछ ऐसा है रिश्ता...

कुछ सितारों की चमक नहीं जाती,
कुछ यादों की खनक नहीं जाती,
कुछ लोगों से होता है ऐसा रिश्ता,
कि दूर रहके भी उनकी महक नहीं जाती।

दोस्ती शायरी, यार ना बदले...

वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त,
मजा तो तब है..
जब वक्त बदल जाये पर यार ना बदले।

दोस्ती शायरी, Mil Jaye Koi Naya To

Mil Jaye Koi Naya To Hume Na Bhula Dena..
Koi Rulaye Tumhe To Hume Yaad Kar Lena..
Dost Rahenge Umar Bhar Tumhare..
Tumhari Khushi Na Sahi Gam Hi Baat Lena.

दोस्ती शायरी, Chote Se Dil Me Gum

छोटे से दिल में गम बहुत है,
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं,
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें,
कम्बखत दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है. 
Chote Se Dil Me Gum Bahut Hai,
Zindagi Me Mile Zakham Babut Hai,
Maar Hi Dalti Kab Ki Duniya Humein,
Kambakht Dosto Ki Duao Me Dam Bahut Hai.

दोस्ती शायरी, सबसे अलग सबसे न्यारे

सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप,
तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप,
आज पता चला कि जमाना क्यों जलता है हमसे,
क्यों कि दोस्त तो आखिर हमारे हो आप

दोस्ती शायरी, किस हद तक जाना है

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है,
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो,
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.!

 

दोस्ती शायरी, किस हद तक जाना है

करनी है खुदा से गुजारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले।

 

दोस्ती शायरी, तू दूर है मुझसे

तू दूर है मुझसे और पास भी है
तेरी कमी का एहसास भी है
दोस्त तो हमारे लाखो है इस जहाँ में
पर तू प्यारा भी है और खास भी है।

 

दोस्ती शायरी, दूरियों से फर्क पड़ता

दूरियों से फर्क पड़ता नहीं,
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है,
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है,
वरना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है.

Duriyo Se Koi Fark Nahi Padta,
Baat To Dilo Ki Nazdikiyo Se Hoti Hai,
Dosti To Kuch Aap Jaiso Se Hai,
Warna Mulaqat To Jane Kitno Se Hoti Hai.

दोस्ती शायरी, Fasle Mita Kar Aapas
Fasle Mita Kar Aapas Mein Pyar Rakhna,
Dosti Ka Ye Rishta Hamesha Yunhi Barkarar Rakhna,
Bichhad Jayein Jo Kabhi Aap Se Hum,
Aankhon Mein Hamesha Hamara Intejar Rakhna

दोस्ती शायरी, Aap Ka Ashiyana
Aap Ka Ashiyana Dil Mein Basaya Hai,
Apki Yadon Ko Seene Se Lagaya Hai,
Pata Nahi Yaad Aapki Hi Kyon Aati Hai,
Dost To Hamne Auron Ko Bhi Banaya Hai.

दोस्ती शायरी, Duaon Mein Shamil
Duaon Mein Shamil Ho Is Tarah,
Phoolon Mein Hoti Hai Khushbu Jis Tarah.
Khuda Aapki Zindagi Mein Itni Khushiyan De,
Dharti Par Hoti Hai Baarish Jis Tarah.

दोस्ती शायरी, Dosti Woh Ehsas Hai
Dosti Woh Ehsas Hai Jo Mit-Ta Nahi,
Dosti Parwat Hai Woh Jo Jhukta Nahi,
Iski Keemat Kya Hai Puchho Humse,
Yeh Woh Anmol Moti Hai Jo Bikta Nahi

दोस्ती शायरी, Zindagi Wo Jo Guzar
Zindagi Wo Jo Guzar Jaye,
Ansoo Wo Jo Beh Jaye,
Khusi Wo Jo Mil Jaye,
Gam Wo Jo Beet Jaye,
Magar Dost Wo Jo Humesha Sath Nibhaye.

एक टिप्पणी भेजें

1टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !